ग़रीबी से prostitution तक

वो पश्चिम बंगाल की नादिया की 13साल की साजिया है जो राजू को स्कूल से लौटते हुए मिली राजू पहचान का था उसे देख बोला -अरे!तू इतनी बड़ी हो गईं पता ही नहीं चला…

राजू ने बताया कि वो दिल्ली में रहता है और उसे नौकरी लगा देगा. राजू की बातों में आसानी से गरीब घर की लड़की साजिया आ गईं और नौकरी के लालच में वो राजू के साथ दिल्ली चली गईं. जंहा राजू ने भाई का चोला उतार फेंका. राजू के घर में उसकी बीबी और साली भी थी फिर भी 13साल की साजिया को कैप्सूल देकर उसने उससे तब बलात्कार किया ज़ब कैप्सूल की वजह से वो होश में नहीं रही और ऐसा वो उससे 6-7दिन तक करते रहा. रोज रात को उसे कैप्सूल दे देता तो साजिया को पता नहीं चलता था कि उसके साथ क्यों और क्या हो रहा है? फिर राजू ने अगली रात साजिया को एक 80साल के बूढ़े के साथ रात गुजारने भेजा कैप्सूल नहीं दिया था इससे साजिया होश में थी.80साल का बुढ़ा रोती हुई साजिया के बदन से 2साल तक खेलकर चले गया. अब राजू रोज साजिया को हर रात 15-20ग्राहकों के सामने बेचकर धड़ल्ले से पैसे कमाने लगा. बाद में दिल्ली के शक्ति ngo ने स्वाति मालीवाल की मदद से एक समिति गठित करके उस बच्ची को छुड़ाया और उसे उसके घर नादिया भेजा गया तो वंहा के लोग इस 13साल की लड़की को 23साल की देख हैरान रह गये क्योंकि उससे संबंध बनाने से और उसे हार्मोन्स के कैप्सूल देने से महज 3साल में वो 10साल बड़ी लगने लगी थी. ये कहानी आज ग़रीबी से जूझ रही किसी भी गरीब परिवार की बेटी की हो सकती है क्योंकि राजू जैसे दलाल बेटियों को बेचने का धंधा कर मालामाल हो रहे है.

कॉपी राइट @jogeshwarisadhir


Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *